Short Moment – love moment

Hey… listen,
Love is a simple and short word which has no shape, usually people say it has red color and a heart shape but I do not think so. i think love is very beautiful part of human feelings .

You know What!? I must have to keep myself happy to make my heart happy…! But I will automatically be happy when there is a love in my heart. I never mean to heart my heart because slowly i’m falling for that person don’t know why, don’t know how, but that person is living in my heart i called it small town and which always makes me happy in twinkling nights and dreamy days.

Yeah.. Life is too short my friend..

We all are living for tomorrow along with our past and forgive our present…

Yeah, people always talk about past and future.. even though we already know that we are not sure about future and we can’t change our past as it was already happened.

We are very small and life is more then that in which we can make ourselves happy for those who love us, care for us, and who do everything for us to bring a smile on our face

Our life is short and you know what the quantity is only one…!

so i prefer to do a little thing like, stretches my lips and showing my teeth… 🙂

Advertisements

हाँ, मे प्यार मे हूँ ।

love image

आज कल दिल कुछ ऐसे ज़ोरो से धड़कने लगा हे…
ऐसा लगता हे के, हाँ,में प्यार में हूँ ।

आज कल सुबह की पहली किरण मेरे चेहरे को छूने लगी है,
फूल भी खुश्बुओ की तरह महकते दिखने लगे है,
खाने का स्वाद भी कुछ चटपटासा लगने लगा है,
किसी का एहसास अपने पास होने लगा है,
बेकार बैठू तो भी अपने में खोया हुआ जैसा लगता है,
अकेले अकेले मुस्कुराने की आदत पड़ने लगी है…,
खुद क साथ सबको खुशियां बाँटने का दिल करता है,
शाम को सूरज का अलविदा कहना अब अच्छा लगने लगा है ।

आज कल चुपके से सुनने लगा हूँ पंछिओं को बातें करते हुए,
समज़ ने लगा हूँ अब, उनकी ये अंजानीसी आवाज़ को में,
जैसे मेरी ही कहानियाँ बयाँ करते है, उसका एहसास होने लगा है,
उड़ जाते हुए ये परिंदो को, सपनो में कैद करने का मन करता है ।

हाँ, कहीं नदी के किनारे बैठ केर वक़्त कटने लगा है,
किनारे पर घूमती हुई मेरी उंगलियां दिल का हाल बतलाने लगी है,
आँखे मेरी खुदको मूँद करके मुझे देखने की कोशिश में लगी है,
और बहते पानी की वो सुरीली आवाज़ महसूस करने लगी है ।

हाँ, आज कल दिल भीड़ में भी अकेले रहने लगा है,
जैसे खुद को ज़िन्दगी की दौड़ में साबित करने चला है,
कभी किताबों में, तो कहीं बहार की दुनिया में,
छोटी छोटी बातों की खुशियां ढूंढने लगा है,
दिल की ख़ुशी चेहरे से बयान करने लगा है ।

हाँ..,
आज कल दिल कुछ ऐसे ज़ोरो से धड़कने लगा है..
ऐसा लगता है के में प्यार में हूँ ।
शायद खुद के… या फिर शायद किसी अपने के…